छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पाटन विधानसभा क्षेत्र मे एक ही परिवार में 4 की हत्या रायपुर से सटे दुर्ग जिले के पाटन के गांव महुदा खुड़मुड़ा की घटना ।


पाटन विधानसभा।छतीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. राजधानी की सीमा से सटे अमलेश्वर थाना क्षेत्र के खुड़मुड़ा गांव के समीप स्थित बाड़ी में एक ही परिवार के चार सदस्यों की निर्ममहत्या कर दी गई. बहु की जमीन पर खून से लथपथलाशमिली तो सास, पिता-पुत्र
बच्चे के सिर पर गंभीर चोट
दुर्ग पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर ने बताया कि पुलिस को सुबह सूचना मिली कि अमलेश्वर थाना क्षेत्र के ग्राम खुडमुड़ा के समीप स्थिति बाड़ी में महिला दुलारी सोनकर (60) एवं बहू कीर्तिन सोनकर (28) का घर में अलग -अलग शव मिला है. वहीं 11 साल के बालक के
सिर पर गंभीर चोट के निशान है.
बहू की सील-बट्टेसेहत्या
इस पूरे घटनाक्रम का एकमात्र चश्मदीद दुर्गेश सोनकर ही है. उसके बयान के बाद ही घटना का खुलासा हो पाएगा. पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद आशंका जताई हैं कि की य घटना रंजिश का परि है. वहीं प्रॉपर्टी से भी जोड़ कर देख रही है. पुलिस हत्यारों को पकड़ने के लिए चार टीम गठित कर खोजबीन में जुट गई हैं. मृतक बहु को पत्थर के वजनी सील-बट्टे से मारा गया है जबकि अन्य | की हत्या गला घोंटकर किए जाने की | आशंका है
मृतकों के शव
जल्द आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होगे: डीजीपी
एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या होने पर मामले को गंभीरता से लेते हुए डीजीपी डीएम अवस्थी घटना स्थल पहुंचे. श्री अवस्थी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि घटना स्थल का अच्छे से मुआयना किया जा चुका है. बहुत जल्द ही आरोपी पुलिस की पकड़ में होगे. फॉरेंसिक एक्सपर्ट के माध्यम से बहुत सी चीजें सामने आई हैं. पुलिस द्वारा 4 टीम गठित कर खोजबीन की जा रही. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद बहुत सी बातें का खुलासा किया जाएगा.की लाशें पानी की टंकी में मिलीं. जबकि 11 साल केएकबालक दुर्गेश सोनकर को गंभीर रूप से घायल कर हमलावर भागगए.घायल बालकको रायपुर स्थित मेकाहारा अस्पताल को भर्ती कराया गया.
हत्या ० रंजिश याप्रापर्टी को लेकर हो सकती है हत्या, जमीन के दस्तावेजों को खंगाल रही पुलिस
घर में आए मेहमान पट शक की सुई
मृतक पति-पत्नी
पाटन विधानसभा।अमलेश्वर थाना अंतर्गत ग्राम खुड़मुड़ा में सोमवार को तड़के सास-बहू के बाद पिता-पुत्र की भी लाश पानी की टंकी में मिलने से सनसनी फैल गयी खुड़मुड़ा गांव के बाहर खेत में
मृतक रोहित
घर बनाकर रह रहा पूरा सोगकर परिवार उजड़ गया है. पार भिक विवेचना में यह बात भी सामने आई है कि कुछ भूमाफियाओं और बिल्डर्स की नजर भी उसके खेत पर रही है. रियल एस्टेट प्रोजेक्ट पुलिस जांच का भी इन्हीं बातों पर फोकस है. घटना की जानकारी मिलते ही आस पास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. इधर दुर्ग रेंज आईजी विवेकानंद सिन्हा और एसपी प्रशांत ठाकुर मौके पर पहुंच गए, थोड़ी ही देर में डीजीपी डीएम अवस्थी मौके पर पहुंच गए. पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच
मौके पर पहुंचे फोरेंसिक एक्सपर्ट
रायपुर से आए फॉरेसिंक सीनियर एक्सपर्ट टीएल चंद्रा ने घटना स्थल का निरीक्षण किया, लेकिन एक ही परिवार के चारों सदस्यों की मौत कैसे हुई उन्हें पता नहीं है. मेडिकल रिपोर्ट से जानकारी होगी कि गला दबाकर हत्या की या किसी ठोस वस्तु से. एक महिला के सिर पर पत्थर पटक कर उसकी हत्या की गई है. बालाराम के पोते दुर्गेश के सिर पर चोट है. उसे रायपुर मेकाहारा में भर्ती किया गया है, दुर्गेश ने पुलिस को बताया कि एक अज्ञात आदमी ने सिर पर चोट पहुंचाया है, लेकिन यह उसे पहचान नहीं पाया.कोई सुराग अभी पुलिस को नहीं में बालाराम के खेत आड़े आ रहे हैं. मिला है. पुलिस की जांच में पता चला है कि रविवार की रात बालाराम के घर कोई मेहमान आया था. वह उसके ससुराल पक्ष से ताल्लुक रखता था, उसकी खातिरदारी में बालाराम की्तिन के सीर पास खून से की पत्नी दुलारी ने चिकन भी बनाया था. उस शख्त के बारे में अभी पता नहीं चल सका है.
पुलिस को ऐसे मिली थी सूचना
पुलिस को सूचना मिली कि सास और बहु की हत्या हुई है.कर जांच पड़ताल में जुट गए.फिलहाल सोनकर परिवार के चार लोगों की हत्या करने वाले का
पिता और बेटा लापता है. इधर घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी प्रज्ञा मे श्राम और एसडीओपी पाटन आकाश राव गिरपुंजे मौके पर पहुंचे. सना सिलबट्टा पड़ा था. भेजा पूरा बाहर आ गया था, सास दुलाई की लाश घर की टंकी में पड़ी थी, जब दुलारी की लाश को बाहर निकाला गया तो बालाराम की लाश पानी से ऊपर आई उसे भी निकाला गया. इतने में जब एक व्यक्ति ने
6 एकड़ खेत में लगाई गई है सब्जी
मृतक बालाराम का बड़ा बेटा सोमनाथ ने बताया कि 6 एकड़ खेत है. खेत में इसमें प्याज, भाजी, चौलाई, पालक, मुली, पत्ता गोभी, सेम की फसल लगाया था.वही बालाराम के पोते संजय ने बताया कि तीनों बच्चों को दादाजी ने एक-एक एकड़ दिया था. दो एकड़ में खुद खेती करते थे.दादा बालाराम, दादी दुलारी बाई, चाचा रोहित और चाची कीर्तिन मिलकर सब्जी की कटाई कर सब्जी को टकी में धोकर सुखाए थे. सोमवार को अल सुबह सब्जी का बोझा लोड करने ट्रेक्टर को घर के पास में खड़ा कर लिया था. उसके पहले बदमाश ने सभी की हत्या कर फरार हो गए.
टंकी में हाथ डालकर देखा तो रोहित की लाश भी मिली. लाशों को पानी से निकाला गया. एक साथ चार लाशों को पुलिस ने घटना में डॉग स्ववार्ड की मदद ली. दुर्ग रेंज के डॉँग मास्टर अमित कुरै डॉग ट्रेकर रूचि से ट्रेक कराया.रुचि का घटना स्थल को सुधाने के बाद मौके से रवाना हुई. करीब तीन-चार किलो मीटर महोदय गांव तक सुंघते हुए गई. इसके बाद लौट आई,
विशेष चार टीम बनाई गई है।
चार व्यक्तियों की हत्या और एक बालक देखने पूरा गांव उमड़ पड़ा. परप्राणघातक हमला हुआ है. यह एक बहुत बड़ी घटना है आशंका यह भी है किआपसी रज़िश और व्यवसायिक प्रतिद्वदिता पर भी फोकस कर लोगों से पूछताछ की जा रही है. आरोपियों को पकडने विशेष चार टीम बनाई गई है. उन्हें चार टास्क दिया है जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.
विवेकानंद सिन्हा, दुर्ग रेंज✍️

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
LIVE OFFLINE
track image
Loading...