छत्तीसगढ़

एसीसी सीमेंट जामुल एरिया में पेड़ों की अवैध कटाई आखिर किस का संरक्षण

भिलाई। भिलाई से सटे जामुल नगर पालिका के एसीसी एरिया में पेड़ों की धड़ल्ले से कटाई हो रही है। आश्चर्य की पेड़ लगाने वाला एसीसी प्रबंधक खुद मौन है। 
एसीसी सीमेंट कंपनी ने जामुल को हरा भरा रखने तथा प्रदूषण मुक्त रखने के लिए बड़े पैमाने पर पेड़ लगाए थे। जिसमें सागौन जैसे बेशकीमती पेड़ भी हैं। 
बताया जा रहा है कि लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए लकड़ी माफिया सक्रिय हो गए हैं। स्वभाविक है कि ये बगैर सरकारी संरक्षण के ऐसा हौसला नहीं दिखा सकते ।

ठीक उसी तरह जैसे लकड़ी माफिया सरकारी संरक्षण में गांव गांव से प्रतिबंधित पेड़ों को सरेआम काटते करते है, और परिवहन कर आरा मिलों तक ले भी जाते हैं। वन विभाग, पर्यावरण संरक्षण मंडल सब जानते हैं पर सांठगांठ इतनी तगड़ी है कि सब तक सबका हिस्सा पहुंच जाता है।

एसीसी एरिया में पेड़ों की कटाई…एसीसी प्रबंधन, जिला प्रशासन पर सवालिया निशान लगा रहा है। 
पर्यावरण संरक्षण समिति के पदाधिकारियोंं ने भी अवैध कटाई की पहल की है हेमंत देवांगन जी, पर्यावरण संरक्षण समिति की की प्रचार प्रभारी व जामुल प्रभारी कामिनी निषाद जी, आप लोगों ने आवाज बुलंद की।

हम जिले के मुखिया कलेक्टर महोदय से मांग करते हैं कि मामले को संज्ञान में ले और दोषियों पर कार्यवाई की जाए। बाकी बचे हुए पेड़ों की सुरक्षा का इंतजाम किया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
LIVE OFFLINE
track image
Loading...